Home / Tag Archives: Indian Polity

Tag Archives: Indian Polity

Writ Jurisdiction of Supreme Court and High Courts

The Constitution of India has conferred on Supreme Court and High Courts power to issue writs. Writ Jurisdiction of Supreme Court and High Courts extends not only to inferior courts and tribunals but also to the state of any authority or person endowed with state authority. Writ Jurisdiction of Supreme …

Read More »

Annual Budget in Indian Parliament and Constitution

With the emergence of Welfare State, Governments have come to look after virtually every sphere of human life. They have to perform manifold functions from maintaining law and order, protecting their territories to implementation of plans for economic and social betterment. Besides, they provide a variety of social services like …

Read More »

Preamble to the Constitution of India

Original Preamble to the Constitution of India

What is Preamble? Preamble is a brief introductory statement that states the aims and objectives of the constitution. Accordingly, the Preamble states the purpose, aim, and objective of the Constitution of India. Who designed and decorated the original Preamble to the Constitution of India page? The Preamble page, along with …

Read More »

ये है भारत के प्रथम नागरिक …

सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था)  ये है भारत के प्रथम नागरिक …   रायसीना के किले में अब तक बारह मनोनीय तेरह  बार इस सिहासन पर बैठ चुके है, जिनमे डाँ राजेंद्र प्रसाद दो बार इस सियासन तक पहुंचे है, तो डाँ जाकिर हुसैन पहले अल्पसंख्यक चेहरे थे,वही …

Read More »

एक नजर राष्ट्रपति के चुनावी प्रकिया पर …

 सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था)  एक नजर राष्ट्रपति के चुनावी प्रकिया पर …   भारतीय संविधान के अनुसार  भारत राष्ट्र में एक राष्ट्रपति होते है । जिनमे अंतर्गत  संध की कार्यपालिका की शक्ति निहित होती है तथा वह इसका प्रयोग संविधान के अनुसार स्वयं तथा अधीनस्थ पदाधिकारियों द्वारा करता है ।  इस प्रकार संघीय कार्यपालिका …

Read More »

* नीति निर्देशक सिद्धांत क्या है ? *

सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था) * नीति निर्देशक सिद्धांत क्या है ? *  राज्य  के नीति-निर्देशक तत्व संविधान के भाग चार में अनुच्छेद 36 से 51 तक शामिल किए गए है। इन तत्वों में  सामाजिक -आर्थिक न्याय के दर्शन का वास्तविक तत्व निहित  है। निर्देशक  तत्व कार्यपालिका और …

Read More »

संवैधानिक उपचारों का अधिकार क्या है ?

‘ सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था)    *  संवैधानिक उपचारों का अधिकार क्या है ? * संवैधानिक उपचारों का अधिकार संविधान के अनुच्छेद 32 में अंकित है। इसके जरिए संवधिान द्वारा प्रदत्त तमाम मौलिक अधिकार नागरिकों को मिल सके,यह सुनिश्चित किया गया है। यह अधिकार अन्य अधिकारों को …

Read More »

* स्वतंत्रता का अधिकार क्या है ? *

  सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था)   * स्वतंत्रता का अधिकार क्या है ? * अनुच्छेद 19 नागरिक अधिकारों के रूप में छः प्रकार की स्वतंत्रताओं की गारंटी देता है जो केवल भारतीय नागरिकों को ही उपलब्ध हैं।इनमें शामिल है- भाषण और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, एकत्र होने की …

Read More »

* पंथ स्वतंत्रता का अधिकार क्या है ? *

‘ सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था) * पंथ स्वतंत्रता का अधिकार क्या है ? * शोषण के विरुद्ध अधिकार अनुच्छेद 23 से 24 में निहित हैं । इनमें राज्य या व्यक्तियों द्वारा समाज के कमजोर वर्गों का शोषण रोकने के लिए कुछ प्रावधान किए गए हैं। अनुच्छेद 23 …

Read More »

मौलिक आधिकार क्या है ?

  सामान्य अध्ययन पेपर – 2 ( राज्य व्यवस्था) * मौलिक आधिकार क्या  है ?  * स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भारत को सदृढ़ एवं शक्तिशाली राष्ट्र बनाने के उद्देश्य से भारतीय संविधान की रचना की गई। भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। इसमें 395 अनुच्छेद तथा 12 …

Read More »